Sale!

Adhuri Chahatein (अधूरी चाहतें) Hindi Paperback Jan. 2022

 150.00

Books details

Author Mala Chaudhary
Pages 100
Book Format Paperback
ISBN 13 978-93-91143-32-9
Dimensions 21.7 x 14.5 x 0.5 cm
Item weight 120 gm
Langauge Hindi 
Publishing Year 2022
Book Genre poetry
Publisher Bright MP Publisher
Seller Buks Kart “Online Book Store”

प्रस्तुत पुस्तक ‘‘अधूरी चाहतें’’ में कवयित्री माला चौधरी ने व्यक्ति के मनोभावों को अपने सरल शब्दों में व्यक्त किया है। इस काव्य संग्रह में बेहतरीन काव्यों का संकलन कवयित्री ने किया है जो मानव मस्तिष्क में उपजते-मिटते अहसासों का एक खूबसूरत महकता गुलदस्ता है। संग्रह में मिलन-बिछोह के पलों को शब्दों को एक लड़ी में संजोया गया है। एक शिकायत है इन शब्दों में अपने प्रियतम के प्रति, एक मिलन का भाव का संचार सा है इन शब्दों में। एक समर्पण है इन पंक्तियों में। त्याग का अहसास है एक दूसरे के प्रति। वास्तव में मिलन और बिछोह हमारे प्रेम के बीच के दो स्तंभ हैं जो जीवन रूपी सेतु को एक मजबूती से थामे हुए हैं, एक दूसरे के पूरक है और एक विश्वास है कि जीवन में कहीं न कहीं यदि बिछोह होता है जो मिलन की उम्मीद की किरण भी हमेशा रहती है।

Description

‘‘अधूरी चाहतें’’ की लेखिका माला चौधरी गाँव नगला मुबारिकपुर, मुज्जफर नगर, उ0प्र0 से हैं तथा साहित्य क्षेत्र की एक जाना माना चेहरा है जो आमजन के हृदय पर अपने काव्य की बदौलत एक अलग ही छाप छोड़ने में सफल रहीं हैं। विभिन्न साहित्यिक मंचों पर अपनी काव्य कला से सुधिजनों को मंत्रमुग्ध करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। लेखिका एक ऐसे परिवेश हैं जहाँ से बहुत ही निम्न संख्या में महिलाएँ इस मुकाम पर आ पाती हैं और दुनिया के सामने अपनी कला का परिचय देती हैं। अपनी प्रथम पुस्तक ‘‘पिघतती रातें’’ में अपने काव्य कौशल का बखूबी परिचय दिया है। इसके अतिरिक्त साझा काव्य संग्रहों में भी अपने काव्य का अनूठा प्रदर्शन किया है।आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि यह पुस्तक आप सभी सुधिजनों को अवश्य ही पसंद आयेगी।

Our Score
Click to rate this post!
[Total: 2 Average: 4.5]

Product Enquiry

Your personal data will be used to support your experience throughout this website, to manage access to your account, and for other purposes described in our privacy policy

WhatsApp us