Sale!

Jadek Roud Khortha Paperback March 2024

 190.00

Book Detail

Author/Editor Sandeep Kumar Mahato
Pages 80
Book Format Paperback
ISBN 13 978-81-19545-05-6
Dimensions 21.7 x 14.5 x 0.3 cm
Item weight 100 gm
Language Hindi (Khortha)
Publishing Year March, 2024
Book Genre Lekh Khortha
Publisher Bright MP Publisher
Seller Buks Kart “Online Book Store”

Description

साहितेक भिनु-भिनु विधा में लिखा टा कोइ हांसी ठठाक बात नाञ लागे मनतुक छउवे घरी साहित बाटे टांन हल मने साहितेक भिनु-भिनु विधाञ पढ़ेक जिगिस्ता जागले रह हल। आर मने हव हल की एक दिन हाम्हु आपन मांय माटी मातरी भासा में जरूर लिखब। आइझ ओहे टांन आर परेम के भिनु-भिनु विधा में तोहिनेक ठांवे राइख रहल हों। जेकर में चाइर गो एकांकी- असिक्छा, डायन, गुरूक महानता आर सहनता आर किसानेक मरन, दु गो जीवनी-जनार्दन गोस्वामी आर श्रीनिवास पानुरी, तीन गो कहानी-बितना, मानुसेक सेवा आर जाड़ेक रउद, दु गो निबंध- प्लास्टिक परदुसन आर घोड़ा नाच तीन गो लेख-खोरठा लोकगीतें रामेक स्वरूप, खोरठा करम गीतेक प्रासंगिकता आर जनी सिक्छाक महातम, जातरा विरतांत दु गो भेंटाइक हुबे, जगन्नाथ पुरी एतनाक डोंइग के संइतल हों।
खोरठाक विविध विधा के बनवे खातिर डॉ.गजाधर महतो प्रभाकर गुरू जीक हिया ले आभार हियेन जे सगर घरी परेरना देते रह हथ संगे हामर साहित्यिक संगी ओहदार अनाम दा जे बिचे-मांझे साहित बाटे उसकावते रह हथ, तकरो बादे हामर जिनगीक संगी आकांक्षा रानीक जे दिन-राइत संग देते रहली। संगे-संग हामर मांय-बाप, दादा संजय महतो कर ढेइर बोड़ जोगदान हइन।
आसा हइ ई किताब खोरठा साहित जगते एगो कटुवा करो काम आवत त आपन मेहनइत के सफल मानब। बाकी तोहिनेक हांथे होन ‘जाड़ेक रउद‘ एकर में भुल-बिसर हवे पारे तकरे सुझाव आवेक आस रहथ।

Our Score
Click to rate this post!
[Total: 0 Average: 0]

Product Enquiry

Your personal data will be used to support your experience throughout this website, to manage access to your account, and for other purposes described in our privacy policy

WhatsApp us